Loading... Please wait...

Our Newsletter


Swastiya Prabandhak Ke Liya Praksishan Upkaran

  • Image 1
Price:
Rs. 140.00
ISBN:
8175280069
Weight:
0.00 KGS
Shipping:
Calculated at checkout
Quantity:
Bookmark and Share


About the Book

प्रशिक्षण का एक दुर्बल पक्ष उसका पगशिक्षक केन्द्रित होना है। प्रशिक्षण अनुभवाधारित नहीं हो तो, उसमें प्रशिक्षार्थियों की भागीदारी बहुत कम होती है। इसको दूर करने का एक उपाय है प्रशिक्षण को निदान आधारित बनाना व्यक्ति, वयक्ति की भूमिका, कार्य दल तथा समस्त संस्था का निदान करके, एसके अनुुकूल प्रशिक्षण देना। यह पुस्तक इस ध्येय की पूर्ति के लिये तैयार की गई है। राजस्थान ई0टी0सी0टी0 प्रशिक्षकों के प्रशिक्षण क्षमता की अभिवृद्धि कार्यक्रम के तहत, राजस्थान सरकार के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग के प्रशिक्षकों ने डाॅ0 उदय पारीक के नेतृत्व में कई प्रशिक्षण के अनुकूल उपकरण तैयार किये, और कुछ उपकरणों के हिन्दी प्रारूप का मानकीकरण किया। ऐसे 16 उपकरणों को इस पुस्तक में प्रकाशित किया है, जो व्यक्त्वि, नेतृत्व और प्रशासन शैली, प्रशासन आचरण, दलीय प्रभावशीलता तथा संस्थागत संसकारांे से संबंधित है। इनका उपयोग अपनी अथवा अपने विभाग संस्था कार्यकर्ताओं की क्षमता अभिवृद्धि के लिये भी कर सकते हैं। हिन्दीं में इस प्रकार का यह पहला प्रकाश्न है, जो प्रशिक्षण संस्थाओं तथा प्रशासकों के लिये अत्यंत लाभकारी होगा।

 

डाॅ0 उदय पारीक वर्तमान में सांईठिफिक एड़वाइजरी कमेटी, ‘‘इंडि़यन इंस्टीट्यूट आॅफ हैल्थ मैनेजमें रिसर्च’’, जयपुर के अवैतनिक अध्यक्ष एवं ‘‘इस्टीट्यूट आॅफ डेवैनपमेंट स्टडीस’’, जयपुर में अध्यक्ष हैं। वह ‘‘हैल्थ पाॅलिसी एवं एडमिनिस्ट्रेशन, यूनिवर्सिटी आॅफ नार्थ कैरोलिना, चैपल हिल, यू0एस0ए0 में प्रोफेसर भी हैं। आर्गेनाइजेशन बिहेविया ओ0बी0 के क्षेत्रा में एक पथ प्रर्दशक के अतिरिक्त डाॅ0 पारीक शोधकर्ता, अध्यापक, सलाहकार एवं परामर्शदाता भी हैं। इन्डियन इंस्टीट्यूट आॅफ मैनेजमेंन्ट, अहमदाबाद में कई वर्षों तक लार्सन एवं टुर्बो प्राध्यापक रहे और भारत, मलेशिया, मिस्र तथा इंडोनेशिया की कई कंपनियांे में विकास एवं पुनः संरचना के परामर्शदाता थे। वह यूनेस्को, ;न्छम्ैब्व्द्ध यूनीडो ;न्छप्क्व्द्ध एवं यू0ए0एड ;न्ण्।ण्.।प्क्द्ध में भी परामर्शदाता रह चुके हैं। डाॅ पारीक च्ेलबीवसवहपंए ।कउपदपेजतंजपवद ैबपमदबम फनंतजमतसल तथा ळतवनच - व्तहंदप्रंजपवद ैजनकपमे की सम्पादकीय समितियों में भी कार्य कर चुके हैं। उनका ष्प्दकपंश्ं ॅीवश्े ॅीवए डंद व ि।दबपमदजए ब्ंउइतपकहमए म्दहसपेीए स्मंकमते पद प्दकपं तथा ॅीवश्े ॅीव पद जीम ॅवतसक मंे भी उल्लेख है।


Find Similar Products by Category


Write your own product review

Product Reviews

This product hasn't received any reviews yet. Be the first to review this product!


Currency Converter

Choose a currency below to display product prices in the selected currency.

India Default Currency

Add to Wish List

Click the button below to add the Swastiya Prabandhak Ke Liya Praksishan Upkaran to your wish list.

You Recently Viewed...